रक्षा के क्षेत्र में बड़ी उपलब्धि, सुपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण सफल

7.5 मीटर लंबी सिंगल स्टेज सॉलिड रॉकेट मिसाइल है जिसे रिमोट द्वारा संचालित किया गया. भारतीय सीमा की ओर आती किसी भी मिसाइल को यह आसानी से नष्ट कर सकती है

नई दिल्ली: ओडिशा के बालासोर तट से गुरुवार को भारत ने एडवांस्ड एयर डिफेंस सुपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण कर जता दिया कि जल्द ही आसमान के क्षेत्र में भारत एक बड़ी ताकत होगा. इस इंटरसेप्टर मिसाइल की सबसे बड़ी खासियत ये है कि भारतीय सीमा की ओर आती किसी भी मिसाइल को यह आसानी से नष्ट कर सकती है. भारत का यह इस साल तीसरा मिसाइल परीक्षण है, जिसमें सफलतापूर्वक सुपरसोनिक बैलेस्टिक मिसाइल ने अपनी ओर आती किसी भी मिसाइल को भेदने में सफला प्राप्त की है. एक इंटरसेप्टर मिसाइल द्वारा पृथ्वी के वायुमंडल के 30 किमी ऊंचाई के भीतर किसी भी मिसाइल को निशाना बनाकर देश की सीमाओं पर हमला करने से रोका जा सकता है. रक्षा के क्षेत्र में भारत ने एक और बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है.
सूत्र के अनुसार परीक्षण उड़ान के दौरान इंटरसेप्टर के विभिन्न मापदंडों को परखने के लिए किया गया था जो पूरी तरह सफल रहा. जिस मिसाइल का आज परीक्षण किया गया वह 7.5 मीटर लंबी सिंगल स्टेज सॉलिड रॉकेट मिसाइल है जिसे रिमोट द्वारा संचालित किया गया. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार परीक्षण के बाद एक रक्षा सूत्र ने बताया कि इसने अपने लक्ष्य को सीधे भेदने में सफलता हासिल की है और ये बड़ी उपलब्धि है इससे पहले भी इसी श्रेणी की दो मिसाइलों के परीक्षण बीते 1 मार्च और 11 फरवरी को भी किया जा चुका है.

Leave a Comment