बिहटा में बनेगा अत्याधुनिक परिधान पार्क, सरकार का फैसला

निवेशकों को जमीन के निबंधन और उपयोगिता में बदलाव शुल्क में 100 प्रतिशत की रियायत मिलेगी। वहीं, राज्य सरकार निवेशकों को 10 फीसदी का ब्याज अनुदान भी देगी.

पटना: बिहार सरकार ने पटना के पास खास तौर पर कपड़ा उद्योग के लिए एक अत्याधुनिक औद्योगिक पार्क बनाने का फैसला लिया है. इसके लिए राज्य सरकार ने 115 एकड़ की जमीन भी चिह्निïत कर ली है. बिहार गारमेंट एसोसिएशन के पटना में आयोजित एक समारोह में मोदी ने कहा, हम इस क्षेत्र के लिए काफी गंभीर हैं. राज्य सरकार की नई औद्योगिक नीति के तहत हमने खाद्य प्रसंस्करण और सूचना प्रौद्योगिकी के साथ-साथ रेडीमेड वस्त्र निर्माण और कपड़ा उद्योग को सर्वोच्च प्राथमिकता वाले क्षेत्र के रूप में चिह्नïत किया है. इसके तहत निवेशकों को कई बड़ी रियायतें भी बिहार सरकार देगी. राज्य सरकार ने इस उद्योग को सर्वोच्च प्राथमिकता वाले प्रक्षेत्र का दर्जा देने का भी फैसला किया है. राज्य के उप-मुख्यमंत्री और वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी के मुताबिक इस परियोजना से बिहार में बड़ी तादाद में लोगों को रोजगार मिलेगा. उन्होंने गुरुवार को रेडीमेड वस्त्र निर्माताओं को बिहार में निवेश करने के लिए आमंत्रित किया.
बिहार में कपड़ा उद्योग को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार बिहटा में एक अत्याधुनिक अपैरल और टेक्सटाइल पार्क का निर्माण कर रही है. वित मंत्री के मुताबिक सर्वोच्च प्राथमिकता वाले क्षेत्र के रूप में इस बड़ी रियायतें मिलेंगी. उन्होंने कहा कि इस उद्योग में निवेशकों को जमीन के निबंधन और उपयोगिता में बदलाव शुल्क में 100 प्रतिशत की रियायत मिलेगी। वहीं, राज्य सरकार निवेशकों को 10 फीसदी का ब्याज अनुदान भी देगी. इसके तहत निवेशकों के कुल बैंक ऋण के ब्याज के 10 फीसदी का भुगतान राज्य सरकार करेगी. पीएफ और ईएसआई के मद में किए गए कुल भुगतान के 50 फीसदी की प्रतिपूर्ति भी निवेशकों को मिलेगी. साथ ही स्थानीय कर्मचारियों के प्रशिक्षण पर प्रति कर्मचारी 20,000 रुपये का भुगतान भी राज्य सरकार करेगी

Leave a Comment