बीजेपी की रणनीति, प्रचारकों की भूमिका अहम

देशभर से 56 सांसदों और नेताओं को लगाया है. इसके साथ ही बीजेपी मैसूर, मेंगलूरू, बेलगावी, कालबुर्गी, हुबली, बेल्लारी, बेंगलूरू समेत कई इलाकों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के करिश्मे का उपयोग करेगी. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के मार्गदर्शन में चुनाव अभियान.

नई दिल्ली: बीजेपी ने राज्य के 224 विधानसभा क्षेतों में हर सीट पर शक्ति केंद्र स्थापित करने की पहल की है. हर पांच-छह बूथ पर एक शक्ति केंद्र स्थापित किया गया है. इन शक्ति केंद्रों का समन्वय इसके प्रमुख कर रहे हैं. इसके अलावा हर बूथ पर कमिटी का निर्माण करने की पहल की गई है. हर विधानसभा सीट पर 12 सदस्यीय समिति का गठन किया गया है जिसमें अनुसूचित जाति, जनजाति, अल्पसंख्यक, युवा, महिलाओं को सदस्य के रूप में शामिल किया गया है. इस समिति को बूथवार रिपोर्ट तैयार करने का दायित्व सौंपा गया है. बीजेपी की रणनीति में उसका 19 सूत्री कार्यक्रम और देशभर से पांच दर्जन से अधिक प्रचारकों की मौजूदगी की भूमिका अहम होगी.
बीजेपी ने अपनी इस रणनीति को जमीन पर उतारने के लिए केंद्रीय मंत्रियों समेत देशभर से 56 सांसदों और नेताओं को लगाया है. इसके साथ ही बीजेपी मैसूर, मेंगलूरू, बेलगावी, कालबुर्गी, हुबली, बेल्लारी, बेंगलूरू समेत कई इलाकों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के करिश्मे का उपयोग करेगी. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के मार्गदर्शन में चुनाव अभियान में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, अनंत कुमार, रविशंकर प्रसाद, निर्मला सीमारमण, पीयूष गोयल, धर्मेन्द्र प्रधान, जितेन्द्र सिंह, पी पी चौधरी, गजेन्द्र सिंह शेखावत, अनंत कुमार हेगड़े के अलावा मुख्यमंत्रियों में योगी आदित्यनाथ, जयराम ठाकुर आदि शामिल हैं.

Leave a Comment