पाक की बेअदबी, भारत ने जताया कड़ा एतराज

नौसेना के रिटायर्ड अधिकारी जाधव को जासूस मानते हुए पाक की मिलिट्री कोर्ट ने मौत की सजा सुनाई है. इस पर इंटरनेशनल कोर्ट ने रोक लगा रखी है

नई दिल्ली: राज्यसभा और लोकसभा में सुषमा ने पाकिस्तान के हर झूठे दावे की पोल खोल दी. अपनी इमोशनल स्पीच में सुषमा ने कहा कि सुहागिन मां और पत्नी को विधवाओं के रूप में एक बेटे-पति के सामने पेश किया गया. पाकिस्तान की तरफ से बेअदबी की इससे बड़ी इंतहा और क्या होगी? बीते सोमवार को जाधव की मां और पत्नी से मुलाकात हुई थी जो 47 मिनट चली. लेकिन इस दौरान पाकिस्तान के अफसरों और पाक मीडिया ने दोनों महिलाओं से बदसलूकी की. नौसेना के रिटायर्ड अधिकारी जाधव को जासूस मानते हुए पाक की मिलिट्री कोर्ट ने मौत की सजा सुनाई है. इस पर इंटरनेशनल कोर्ट ने रोक लगा रखी है. कुलभूषण जाधव की मां अवंती और पत्नी चेतांकुल के साथ पाकिस्तान में हुई बदसलूकी पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने गुरुवार को कड़ा एतराज जताया. सुषमा स्वराज ने कहा- हम जाधव के मृत्युदंड को रुकवाने में सफल रहे. यह मृत्युदंड पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने गलत और हास्यास्पद तरीके से चलाए गए मुकदमे में सुनाया गया था. यह सजा टल गई है. अब हम और मजबूत तर्कों के आधार पर इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस के जरिए जाधव को स्थायी राहत देने की कोशिश कर रहे हैं.
कांग्रेस नेता और राज्यसभा में लीडर ऑफ अपोजिशन गुलाम नबी आजाद ने कहा, मैं अपनी पार्टी की तरफ से सरकार के बयान से एसोसिएट करना चाहूंगा. पाकिस्तान की लीडरशिप और उसकी फौज को भारत अच्छी तरह से जानता है, यहां के लोग जानते हैं. उन्हें लोकतंत्र में कोई विश्वास नहीं है। उन्हें मर्यादा में विश्वास नहीं है. पाकिस्तान ने मुलाकात के पहले और मुलाकात के बाद मीडिया को जाधव की मां और पत्नी से बातचीत की इजाजत दी, जबकि तय यह था कि मीडिया को पहुंचने नहीं दिया जाएगा. मुलाकात से पहले जिस गाड़ी में जाधव की मां और पत्नी गई थीं उसे पाकिस्तानी अफसरों ने मीडिया के सामने ही रोका. जहां मीडिया वाले सवाल करते रहे. हालांकि जाधव की मां और पत्नी ने उनसे कोई बात नहीं की.

Leave a Comment