खत्म हो गईं भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज की उम्मीदें

दुबई में होने वाली बैठक महज औपचारिक रह गयी थी क्योंकि बीसीसीआई शुरू से कहता रहा है कि वह सरकार से मंजूरी मिलने के बाद पाकिस्तान से खेल पाएगा.

नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट संबंध हाल फिलहाल बहाल होने की संभावना नहीं है. पहले सरकार ने ऐसी किसी भी संभावना से साफ तौर पर इनकार कर दिया. दुबई में अपने संबंधों को लेकर जब दोनों बोर्ड के अधिकारियों के बीच बैठक हुई तब खेल मंत्री विजय गोयल ने इन चिरप्रतिद्वंद्वी टीमों के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट की संभावना से साफ इनकार कर दिया. भारत पर आतंकी हमले के बाद राजनयिक तनाव के कारण इन दोनों देशों के बीच 2012 से कोई द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं खेली गई है. गोयल ने स्पष्ट किया कि जब तक सीमा पार से आतंकवाद नहीं रुकता है तब तक सरकार भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट श्रृंखला की अनुमति नहीं देगी. गोयल ने पत्रकारों से कहा, ‘बीसीसीआई को पाकिस्तान को किसी भी तरह का प्रस्ताव भेजने से पहले सरकार से बात करनी चाहिए. मंत्री के इस स्पष्ट बयान के बाद दुबई में होने वाली बैठक महज औपचारिक रह गयी थी क्योंकि बीसीसीआई शुरू से कहता रहा है कि वह सरकार से मंजूरी मिलने के बाद पाकिस्तान से खेल पाएगा. बीसीसीआई के संयुक्त सचिव अमिताभ चौधरी ने एक संक्षिप्त बयान में कहा, ‘बीसीसीआई और पीसीबी के प्रतिनिधिमंडल के बीच दुबई में बैठक हुई. उन्होंने एक दूसरे को अपनी स्थितियों से अवगत कराया. बैठक सौहार्दपूर्ण माहौल में हुई और इसका परिणाम संबंधित बोर्ड के सदस्यों के साथ साझा किया जाएगा.’

Leave a Comment