अंतरिक्ष में भारत का परचम, मिशन शक्ति परीक्षण

भारत में अपना नाम ‘स्पेस पावर' के रूप में दर्ज करा दिया है. अब तक रूस, अमेरिका और चीन को ये दर्जा प्राप्त था,

नई दिल्ली: भारत ने अपना नाम अंतरिक्ष महाशक्ति के रूप में दर्ज करा दिया है. मिशन शक्ति की सफलता के साथ अमेरिका, चीन, रूस के बाद भारत दुनिया का चौथा सबसे शक्तिशाली देश बन गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम संबोधन में इस बात की जानकारी दी. पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान कहा कि भारत ने आज एक अभूतपूर्व सिद्धि हासिल की है. भारत में आज अपना नाम ‘स्पेस पावर' के रूप में दर्ज करा दिया है. अब तक रूस, अमेरिका और चीन को ये दर्जा प्राप्त था, अब भारत को भी यह उपलब्धि हासिल की है. उन्होंने कहा कि यह देश के लिए गर्व की बात है. कुछ समय पहले हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 300 किलोमीटर एलओ सैटेलाइट को मार गिराया. हालांकि, पीएम मोदी ने कहा कि हम विश्व शांति के प्रयास में हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हर भारतीय के लिए इससे बड़े गर्व का पल नहीं हो सकता. कुछ ही समय पहले हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 300 किलोमीटर दूर एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराया है. यह सैटेलाइट जो कि एक पूर्व निर्धारित लक्ष्य था, एसेट मिसाइल द्वारा मार गिराया गया. मिशन शक्ति को तीन मिनट में सफलतापूर्वक पूरा कर लिया गया. यह अत्यंत कठिन ऑपरेशन था. इसमें उच्च गुणवत्ता वाली तकनीक की जरूरत थी. सभी निर्धारित उद्देश्य प्राप्त कर लिए गए. यह भारत में एंटी सैटेलाइट (ए-सेट) मिसाइल द्वारा सिद्ध किया गया.

Leave a Comment