कैंसर से निजात, जिंदगी से हारना मना है

देश की चर्चित सामाजिक संस्था "समृद्ध भारत" के चेयरमैन अमित कुमार के द्वारा किया गया है। विश्व के जाने माने दवा निर्माता कंपनी ब्रावो_ फार्मा के फाउंडर राकेश पांडेय से एक समझौता किया है जिसके तहत अब तेजी से लोगों को कैंसर से निजात दिलाने के लिए पहल की जाएगी। ब्रावो फार्मा ग्रुप कैंसर के इलाज के लिए अनुसंधान करती है, दवाएं बनाती हैं। राकेश पांडेय का फोकस जेनेरिक मेडिसिन पर भी है तथा दुनिया के कई देशों में एडवांस्ड डायग्नोोस्टिक सेंटर की स्थाैपना कर रहे हैं।

Leaks: यूँ तो कैंसर सदियों पुरानी बीमारी है लेकिन जैसे-जैसे आधुनिक जीवन शैली में दोषपूर्ण खान-पान तथा प्रदूषित जल औऱ हवा का प्रभाव बढ़ रहा है वैसे-वैसे देश मे हर साल लाखों लोग इस बीमारी के चपेट में आ रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट को माने तो दुनिया के बाकी देशों के मुकाबले भारत में कैंसर रोग से प्रभावितों की दर कम होने के बावजूद यहां 15 प्रतिशत लोग कैंसर के शिकार बन जाते हैं। कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसमें कोशिकाएं अनियंत्रित हो कर विभाजित हो जाती हैं और वो स्वस्थ ऊतकों को भी अपनी चपेट में ले लेतीं हैं। कैंसर से प्रभावित कोशिकाऐं खून तथा लसीका प्रणाली के माध्यम से शरीर के अन्य भागों में फैल सकती हैं। सबसे हैरानी वाली बात यह है कि यह बीमारी 100 से अधिक प्रकार के होते हैं। किसी भी बीमारी से निजाद पाने के लिए यह जरूरी है कि लोगों तक इस बीमारी के बारे में जागरूकता फैलायी जाए तथा दवाईयां भी उपलब्ध करवाई जाए। इस महत्वाकांक्षी स्वप्न साधने के लिए देश में कैंसर फ्री इंडिया की पहल की जा रही है जो अब पीड़ितों के लिए आंदोलन बन गया है। सामाजिक आंदोलन का सूत्रपात देश की चर्चित सामाजिक संस्था "समृद्ध भारत" के चेयरमैन अमित कुमार के द्वारा किया गया है। अपने आंखों में कैंसर फ्री इंडिया का स्वप्न पाले अमित कुमार देश के हर हिस्सों में लोगों को इस बीमारी के बारे में जागरूक करते रहते हैं, बीमार तक चिकित्सा सुविधा पहुंचाते रहते हैं। कई सोशल इवेंट के जरिए लोगों को कैंसर से सावधान कर तथा जागरूकता फैला कर बीमारी से बचाव भी किया। इन्होंने अपने इस अभियान को पहले की अपेक्षा और मजबूत बनाने, व्यापक तौर पर लोगों को चिकित्सीय सुविधा पहुंचाने के उद्देश्य से विश्व के जाने माने दवा निर्माता कंपनी ब्रावो_फ़ाउंडेशन के फाउंडर राकेश पांडेय के साथ जुड़कर काम करने का फैसला किया है, जिसके तहत अब तेजी से लोगों को कैंसर से निजाद दिलाने के लिए पहल की जाएगी। सामाजिक कार्यों से जुड़े लोगों के बीच "समृद्ध भारत" के चैयरमैन अमित कुमार तथा ब्रावो_फ़ाउंडेशन के फाउंडर राकेश पांडेय के बीच हुई समझौते को उम्मीद भरी नज़रों से देखा जा रहा है। क्योंकि इससे अमित कुमार द्वारा कई सालों से चलाई जा रही अभियान को बल मिलेगा। उनके कार्य क्षमता में गुणात्मक वृद्धि होगी जिससे पीड़ितों तक आसानी से राहत पहुंच जाएगी। राकेश पांडेय की UK आधारित कम्पनी ब्रावो फार्मा ग्रुप कैंसर के इलाज के लिए अनुसंधान करती है, दवाएं बनाती हैं। राकेश पांडेय का फोकस जेनेरिक मेडिसिन पर भी है तथा दुनिया के कई देशों में एडवांस्डी डायग्नोवस्टिक सेंटर की स्थाडपना कर रहे हैं ताकि लोगों को कैंसर से लड़ने में मदद भी मिल सके।

Leave a Comment